अंतर्राष्ट्रीय

09Mar
अंतरराष्ट्रीयदेशशिक्षासमाज 0

ऐसे ही रहेंगी और पढ़ेंगी बेटियाँ, तो कैसे बढेंगी बेटियाँ

  डॉ. अनिल कुमार राय   अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर अपने देश की...

देश

10Mar
देशशिक्षा 0

सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय

  सरकारी वेतन पाने वालों के बच्चे अनिवार्य रूप से पढ़ें सरकारी विद्यालयों...

चर्चा में

03Mar
चर्चा मेंदेशमुद्दा 0

वर्तमान भारत-पाक तनाव और आतंक के विरुद्ध भारत के आक्रामक रवैये के परिप्रेक्ष्य में विचारणीय बिंदु

शिवदयाल    तथाकथित शांतिकाल में पिछले तीस सालों में पाकिस्तान हमारे हजारों...

मुनादी

05Mar
मुनादी 1

स्त्री अकेली नहीं और अलग नहीं

  किशन कालजयी  भारत का स्वतन्त्रता संग्राम अपनी चेतना और अपने मनोविज्ञान...

राज्य

19Mar
हरियाणा 1

बदलती नारी की तस्वीर – नीलम चौधरी 

नीलम चौधरी  महिलाएं समाज की वास्तविक वास्तुकार,आर्किटेक्ट होती हैं। अपने...

आवरण-कथा

04Mar
आवरण कथास्त्रीकाल 3

स्त्रीवाद क्या और क्यों ?

  सुधा सिंह   आज जितनी प्रमुखता से स्त्री और स्त्रीवाद का मसला सामने आ रहा...

मुद्दा

19Mar
झारखंडमुद्दा 0

जारी हैं भूख से मौतें – आकाश रंजन

  आकाश रंजन   सितम्बर 2017 में झारखण्ड के सिमडेगा जिले में भात माँगते हुए हुई 11...

आर्थिकी

11Mar
आर्थिकी 0

आम जनता की जमा पूँजी पर आशंका के बादल

    वित्‍तीय समाधान और जमा बीमा विधेयक 2017 (एफआरडीआई)के जमानती खंड को लेकर लोगों...

साहित्य

04Mar
साहित्य

स्त्री-विमर्श और मीराकांत का ‘नेपथ्य राग’ – वसुंधरा शर्मा

  वसुंधरा शर्मा पश्चिम के ज्ञानोदय ने वंचित,...

02Mar
0

साहित्य की एक नयी दुनिया – अमित कुमार

12Feb
0

ठहरे हुए समाज को सांस और गति देती है साहित्यिक पत्रकारिता

09Feb
0

सांस्कृतिक आयोजनों का अनोखा हिन्दी मेला

15Dec
0

ज्ञानपीठ और भारतीय भाषा

15Dec
2

साहित्य अकादमी का सवर्णवाद

05Oct
0

‘जा सकता, तो जरूर जाता’ पर काश! और लिखा जाता

12Sep
0

स्मृति शेष – उस पागल चंदर को कैसे भूले कोई…

WhatsApp chat