Category: हरियाणा

राजनीतिहरियाणा

हाईकमान ने राज्यसभा सदस्य बनवा कर सुरजेवाला का बढ़ाया कद

 

पूर्व मंत्री रणदीप सिंह सुरजेवाला राजस्थान से कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य चुन लिए गए हैं। इसके साथ ही उनका राजनीतिक कद भी बढ़ गया है। यह कद बढ़ाने का श्रेय किसी और को न जाकर सीधे तौर पर कांग्रेस हाईकमान को जाता है, जो हरियाणा में कोई रिस्क उठाने की बजाए उन्हें सेफ जोन मानते हुए राजस्थान भेज दिया। न सिर्फ राजस्थान भेजा, बल्कि पहले ही झटके में सुरजेवाला की जीत को सुनिश्चित करते हुए उन्हें पहली वरीयता देकर भेजा।

रणदीप सिंह सुरजेवाला न सिर्फ युवक कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं, बल्कि हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमिटी के कार्यकारी अध्यक्ष भी रह चुके हैं। साल 1996 और 2005 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने नरवाना से क्रमश: पूर्व केंद्रीय उपमंत्री जयप्रकाश व पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला को पराजित किया। नए परिसीमन में नरवाना विधानसभा सुरक्षित होने के बाद उन्होंने 2009 में कैथल से विधानसभा का चुनाव जीता। वे 2005 से 2014 तक भूपेंद्र सिंह हुड्डा की सरकार में महत्वपूर्ण महकमों के साथ कैबिनेट मंत्री भी रहे। सुरजेवाला को 1993 के उपचुनाव में और 2000 के विधानसभा चुनाव में पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला से पराजय का सामना भी करना पड़ा। इसके अलावा 2019 में जींद विधानसभा के उपचुनाव व 2019 में ही कैथल से विधानसभा चुनाव में भी उन्हें हार मिली।

सुरजेवाला की गिनती कांग्रेस हाईकमान के करीबियों में होती है। वे इस समय कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव हैं और कर्नाटक जैसे महत्वपूर्ण राज्य के प्रभारी हैं। इसके साथ ही कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता के साथ ही मीडिया व कम्युनिकेशन इंचार्ज भी हैं। राज्यसभा चुनाव में हरियाणा से दो नेताओं रणदीप सिंह व कुमारी सैलजा को उतारने पर कांग्रेस हाईकमान ने चर्चा की, लेकिन यहां पर मौजूद गुटबाजी की आहट के चलते सुरजेवाला की राह आसान करने के लिए उन्हें राजस्थान भेज दिया। जिन लोगों को कांग्रेस ने राजस्थान भेजा, वहां इनमें से सुरजेवाला को पहली वरियता देते हुए कांग्रेस ने यह जता दिया कि रणदीप अब बड़े कद के नेता बन गए हैं और उनके मामले में पार्टी किसी तरह का रिस्क नहीं लेना चाहती। इसलिए मुकुल वासनिक व प्रमोद तिवारी के मुकाबले उन्हें ज्यादा तवज्जो दी गई।

अब सुरजेवाला के राज्यसभा सदस्य बनने के बाद यह साफ हो गया है कि कांग्रेस उन्हें केंद्र सरकार को घेरने के लिए राज्यसभा में भी प्रयोग करेगी। हिंदी, अंग्रेजी भाषा पर कमान के कारण वे लंबे समय से कांग्रेस का मीडिया विभाग बखूबी संभाल रहे हैं और विभिन्न मौकों पर पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस को भी खुद ही संभालते हैं। ऐसे में प्रदेश में रणदीप सिंह सुरजेवाला के समर्थकों में उनके राज्यसभा जाने की खुशी है और वे आने वाले दिनों में रणदीप के हरियाणा आगमन पर जोर-शोर से स्वागत की तैयारियों में जुट गए हैं।

अजय दीप लाठर

लेखक वरिष्ठ पत्रकार एवं राजनीतिक विश्लेषक हैं.

18Mar
हरियाणा

अभय सिंह चौटाला ने मनोहर सरकार को घेरा

  राजेन्द्र सिंह जादौन   किसान आन्दोलन के समर्थन में हरियाणा विधानसभा की...

07Jul
दिल्लीपंजाबबिहारमध्यप्रदेशराजस्थानहरियाणा

लोकपरिवहन की दुर्दशा

  लोकपरिवहन सुविधा के अभाव में मध्यप्रदेश के लोग बुरी तरह से परेशान हैं।...

25Feb
हरियाणा

हरियाणा की आबकारी नीति : झूठ और सच का खेल

  दीपकमल सहारन   हरियाणा के उपमुख्यमंत्री और आबकारी एवं कराधान मंत्री...

21Jul
हरियाणा

दोबारा सत्ता में आने की कोशिश में लगी हरियाणा सरकार – सोनू झा

  सोनू झा    हरियाणा इस वक्त चुनावी साल में है। मनोहर लाल बीजेपी को दोबारा...

03Jul
हरियाणा

…तो देश के कृषि मन्त्री होते

  चंडीगढ़ ब्यूरो   यदि 2014 के लोकसभा चुनावों में रोहतक की जनता ने ओमप्रकाश...

25May
हरियाणा

हरियाणा में 90 में से 79 सीटें जीत कर भी जाट मंत्रियों की सीट पर हार गयी बीजेपी – अनिल आर्य

  अनिल आर्य   हरियाणा के 10 लोकसभा क्षेत्रों के 90 विधानसभा हल्कों में से 79 पर...

25May
हरियाणा

अब मिली होगी चौ. देवीलाल की आत्मा को शांति – अजय दीप लाठर

  अजय दीप लाठर      जो इनेलो-जजपा नहीं कर पाए, बीजेपी ने कर दिखाया, माइक्रो...

24May
हरियाणा

मनोहर लाल को हुड्डा वाली गलती दोहराने से बचना होगा – अजय दीप लाठर

  अजय दीप लाठर       कौशिक, बृजेंद्र को मिल सकती है झंडी वाली कार   लोकसभा...

20Mar
हरियाणा

‘मनोहर’ योजना से जगमग हरियाणा – सोनू झा

सोनू झा  हरियाणा की मनोहर सरकार ने अबतक के अपने कार्यकाल में कई ऐसी योजनाओं को...