खेल-खिलाड़ी

छह छक्कों की कहानी युवी की जुबानी

 

युवराज सिंह ने अपने छह बॉलों में छह छक्कों के कारनामे को याद करते फेसबुक पर एक वीडियो पोस्ट किया है। इस वीडियो में धोनी भी युवराज बने हैं तो ब्रॉड, कॉलिंगवुड, अंपायर भी युवराज। पढ़िए छह छक्कों की कहानी युवी की जुबानी।

साल था 2007,

टी20 क्रिकेट खेलने से दूर भागने वाला भारत, साउथ अफ्रीका में इस प्रारूप के खेले जा रहे पहले विश्व में अपना दावा भी ठोक रहा था। सचिन, गांगुली, लक्ष्मण, द्रविड़ इस टीम से गायब थे और युवाओं पर भारतीय टीम को विश्व विजय कराने का जिम्मा था, जिसकी कप्तानी बिग हिटर महेंद्र सिंह धोनी कर रहे थे। 24 सितंबर 2007 को खेले गए फाइनल मुकाबले में भारत ने अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को हरा खिताब भी जीत लिया पर विश्व कप याद किया गया बाएं हत्था स्टाइलिश बल्लेबाज युवराज के स्टाइलिश बनने की कहानी की वजह से।

19 सितंबर 2007 को डरबन में अंग्रेजों से हुए मैच में युवराज ने स्टुअर्ट ब्रॉड की छह गेंदों पर छह छक्के जड़ने का कारनामा कर दिखाया था। यही मैच आज के टी20 के धाकड़ बल्लेबाज रोहित शर्मा और क्रिकेट से रिटायरमेंट ले चुके जोगिंदर शर्मा का भी पहला टी20 मैच था।

उस मैच के चौदह साल पूरे होने पर युवराज ने अपने फेसबुक पेज पर एक वीडियो साझा किया है। वीडियो के कैप्शन में युवराज ने अपने फॉलोवर्स से खुद की एक्टिंग के बारे में राय मांगी है और साथ ही स्टूअर्ट ब्रॉड के साथ फ्लिंटॉफ को भी याद किया है। युवी-युवी के शोर के साथ शुरू हुई 8 मिनट 9 सेकेंड की इस वीडियो में युवराज बाइक का हेलमेट पहन टीम इंडिया की नीली जर्सी और जीन्स पहने नजर आते हैं।

अपनी बैटिंग का इंतज़ार करने के बाद युवराज ने मैदान में उतरते ही हेलमेट के शीशे को ऊपर नीचे किया। पहला शॉट खेलने के बाद युवराज दूसरे छोड़ पर खड़े महेंद्र सिंह धोनी को याद करते बोलते हैं माही कैसा आ रहा है इसका बॉल !! फिर खुद ही माही बन बोलते हैं बाउंस है। वीडियो में फ्लिंटॉफ से बहस करते युवराज अंपायर से कहते हैं यार अंपायर तू बीच में मत बोल, इसकी गलती थी। इसने स्टार्ट किया है, मैंने कुछ नही बोला। ठीक है, तो आप इसको बोलो।

फिर ओवर कराने आए ब्रॉड की पहली गेंद पर गुस्से से तमतमाते युवराज छक्का जड़ने का अभिनय करते माही से कुछ नही बोलते। वीडियो के बैकग्राउंड में मैच की उस दौरान अंग्रेज़ी में हो रही कमेंट्री चलती है। दूसरी गेंद पर फिर युवराज ने छक्का जड़ा और माही बन कहते हैं हां देता रह ऐसे ही। तीसरी गेंद पर छक्का जड़ युवराज फिर माही से कुछ नही कहते, चौथी भी बाउंड्री पार पहुंचाने के बाद अंपायर से कहते हैं अंपायर नो बॉल अंपायर। नही।

फिर धोनी से पूछते हैं माही कहां डालेगा ये, क्या लगता है। फिर युवराज धोनी बन कहते हैं अब कहीं भी डाले, अब तो चार बॉल में चार छक्का हो गया है। अब तो लगता है दो खा के जाएगा। इसके बाद अपनी बैटिंग क्रीज़ में लौटने पर युवराज ने कॉलिंगवुड और ब्रॉड की बातचीत को भी बोल कर दिखाया है, जिसमें कॉलिंगवुड ब्रॉड से अच्छी यॉर्कर डालने के लिए कहते हैं। युवराज ब्रॉड की ओवर द स्टम्प्स बात सुन कर खुश होते कहते हैं ओवर द स्टम्प्स, इट्स गुड फ़ॉर मी। ये साइड छोटी है और पांचवी गेंद पर भी छक्का।

अब युवराज ने फ्लिंटॉफ की कमर पकड़ सर झुकाए एक्टिंग की है। फिर वह कहते हैं पांच बॉल में पांच छक्के हो गए हैं, पांच खाए थे पांच मार दिए। इसके आगे ब्रॉड बने युवराज कहते हैं अंपायर बॉल्स टू गो। अंपायर लास्ट बॉल। अंतिम गेंद भी सीमा पार, उसके बाद जोश से भरे युवराज सिंह ने वीडियो का अंत मैच की असली फुटेज के साथ किया है।

हमेशा याद रहेगी छह छक्कों की कहानी

युवराज, सचिन, गांगुली, सहवाग, धौनी, कुंबले, जहीर, लक्ष्मण, हरभजन के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट छोड़ने के बाद भी भारत में क्रिकेट की दीवानगी बढ़ती ही जा रही है, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया को घर में पीटने के बाद भारतीय क्रिकेटर अब आईपीएल में मस्त हैं। भारतीय क्रिकेट के कुछ यादगार पल ऐसे हैं जो भारतीय क्रिकेट प्रेमियों के जेहन में हमेशा रहेंगे और खिलाड़ी भी उन्हें हमेशा याद रखेंगे युवराज का छह गेंदों में छह छक्के लगाने का कारनामा कुछ ऐसा ही था।

खबर लिखे जाने तक वीडियो को बत्तीस लाख से ज्यादा लोग इस वीडियो को देख चुके हैं। आप भी यहाँ क्लिक कर वीडियो देख सकते हैं।

.

Show More

हिमांशु जोशी

लेखक उत्तराखण्ड से हैं और पत्रकारिता के शोध छात्र हैं। सम्पर्क +919720897941, himanshu28may@gmail.com
5 1 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x