Tag: bihar

देशराजनीति

जबाब सिर्फ और सिर्फ जनता के पास है – तमन्ना फरीदी

लोकसभा चुनाव की तिथि का एलान अब किसी भी समय बज सकता है. चुनाव आते ही सर्वे का दौर शुरू हो जाता है सर्वे के मुताबिक लोकसभा चुनाव में एनडीए को 291 सीटें मिल सकती हैं, जो कि बहुमत से 19 ज्यादा हैं। हालांकि इसमें भी पेंच है। उत्तर प्रदेश में बुआ और बबुआ साथ मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ने की स्थिति में केन्द्र में त्रिशंकु लोकसभा ‍की स्थिति बन सकती है।
यूपी में दोनों दल मिलकर लड़ने पर सीधा नुकसान एनडीए को होगा। इस स्थिति में एनडीए 247 सीटों तक सिमट सकता है, जो कि बहुमत से 25 सीटें दूर है। फिर भी राजनीतिक दल अपनी तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटे हैं. सियासत के नए समीकरण बन रहे हैं और तमाम छोटे दल एक दूसरे से गठबंधन कर अपनी ताकत बढ़ाने में जुटे हैं. हर तरफ यही सवाल है कि 2019 में किसकी बनेगी सरकार और किसकी होगी हार.सर्वे के नतीजे बताते हैं कि 2014 के मुकाबले 2019 में वोटों के मामले में बहुत अंतर आया है ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि लोकसभा त्रिशंकु होगी जिसमें किसी भी दल या गठबंधन को अपने दम पर बहुमत नहीं मिलने जा रहा है।

भाजपा अपने साथियों से मिल रहा है जो उनके ख़िलाफ़ बोल रहे हैं जैसे की शिवसेना। उनकी नाराज़गी के जो भी कारण हों लेकिन क्षेत्रीय पार्टियों के समर्थन के बिना चुनावी गणित में बहुत कुछ बदल सकता है। ख़ास करके दक्षिण भारत में जहाँ उनका ख़ुद का संगठन मज़बूत नहीं है।
2019 का रास्ता मोदी जी के लिए पहले के मुक़ाबले कहीं कठिन हो गया है।
राजनितिक परिदृश्य देखे तो आपको लगेगा की विपक्ष अभी भी बहुत ताकतवर नहीं है । कांग्रेस पार्टी एकजुट तो लग रही है लेकिन अभी तक वो जतना के बीच अपना खोया हुआ विश्वास नहीं प्राप्त कर पायी है । कांग्रेस अब कुछ ही राज्यों में सिमट गयी है. अगर आप उत्तर पूर्व के राज्यों को छोड़ दे तो आप पाएगे की कांग्रेस की पाकर केवल हरयाणा, पंजाब, मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, कर्णाटक, गुजरात और तेलंगाना में ही टॉप 2 की पार्टी है. कांग्रेस अन्य राज्यों जैसे उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु में लगभग अपना वजूद खो चुकी है। राहुल गाँधी अभी भी लोकप्रियता में मोदी से बहुत पीछे है।

2019 में किसकी सरकार बनेगी, क्या मोदी जी फिर कामयाब होंगे? ये बहुत बड़ा प्रश्न है इसका जबाब सिर्फ और सिर्फ जनता के पास है

लेखिका सबलोग के उत्तर प्रदेश ब्यूरो की प्रमुख हैं|
सम्पर्क- +919451634719, tamannafaridi@gmail.com
.
.
.
सबलोग पत्रिका  को फेसबुक पर पढने के लिए लाइक करें|
04Feb
राजनीति

कांग्रेस को कम न आंकें – अब्दुल गफ्फार

प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया को राष्ट्रीय महासचिव बनाया जाना...

02Feb
गुजरातचर्चा मेंतमिलनाडुदेशदेशकालमुद्दा

लोकतन्त्र की रक्षा के लिए  ‘संविधान सम्मान यात्रा’ -बसन्त  हेतमसरिया

  यह भारतीय इतिहास का एक महत्वपूर्ण दौर है, जिसमें हम एक ऐसे चौराहे पर खड़े...

30Jan
शख्सियत

जार्ज साहब का जाना – रामदेव सिंह

रामदेव सिंह  जार्ज साहब उन दिनों रेल मंत्री थे।हमलोग इंडियन रेलवे टिकट...

13Jan
उत्तरप्रदेशउत्तराखंडचतुर्दिकचर्चा मेंझारखंडदिल्लीदेशबिहारमध्यप्रदेशराजनीतिहरियाणाहिमाचल प्रदेश

लोकसभा चुनाव में हिन्दी प्रदेश का महत्व – रविभूषण

  रविभूषण लोकसभा में कुल निर्वाचित सांसदों की संख्या 543 है, जिनमे 225 सांसद...