Category: मीडिया

उत्तरप्रदेशमीडिया

पत्रकारिता को बदनाम करने वाले अपराधियों पर होगी पुलिस की पैनी निगाहें

 

प्रेस लिखी अवैध गाड़िया होंगी सीज !
फर्जी आईडी प्रेस कार्ड होगी जांच कई फर्जी पत्रकारों का होगा गोरख धंधा बंद !

प्रयागराज जिलों में इन दिनों फर्जी पत्रकार बनने और बनाने का गोरख धंधा तेजी से बढ़ता जा रहा है ! सड़कों पर दिखने वाली हर चौथी गाड़ी में से एक गाड़ी में जरूर प्रेस लोगो दिखता नजर आ जाएगा ! कई शहरों में अबतो पुलिस ने ऐसे फर्जी पत्रकारों के गैंग सहित उनकी बिना कागजात वाली गाड़िया भी सीज करनी शुरू करउनके फर्जी आईडी प्रेस कार्ड के आधार पर मुकदमा भी लिखना शुरू कर दिया है ! ये फर्जी पत्रकार अपनी गाड़ियों में बड़ा बड़ा प्रेस का मोनोग्राम तो लगाते ही है साथ ही फर्जी आईडी कार्ड भी बनवाकर अधिकारियो व लोगो को रौब में लेने का प्रयास भी करते है !

कुछ संस्थाए तो ऐसी है जो 1000 रूपये से लेकर 5000 हजार रूपये जमा करवाकर अपनी संस्थान का कार्ड भी बना देती है और बेरोजगार युवकों को गुमराह कर उनसे धन उगाही करवाती है लेकिन पकडे जाने पर वो संस्थाए भीभाग खड़ी होती ! लगातार बढ़ती फर्जी पत्रकारों की संख्यासे न सिर्फ छोटे कर्मचारी से लेकर अधिकारी परेशान है बल्कि खुद समाज सम्मानित पत्रकार भी अपमानित महसूस नजर आते है !

कुछ फर्जी पत्रकार तो अपनी गाड़ियों के आगे पीछे से लेकर वीआईपी विस्टिंग कार्ड भी छपवा रखे है जो लोग पुलिस की चेकिंग के दौरान उनको प्रेस (मीडिया ) का धौस भी दिखाते है गाड़ी रोकने पर पुलिस कर्मी से बत्तमीजी पर भी उतारू हो जाते है इनमे से तो बहुत से ऐसे पत्रकार है जो पेशे से तो भूमाफिया और अपराधी है जिन पर न जाने कितने अपराधिक मुक़दमे भी दर्ज है लेकिन अपनी खंचाड़ा गाड़ी से लेकर वीआईपी गाड़ी पर बड़ा बड़ा प्रेस मीडिया छपवा कर मीडिया को बदनाम करने में कोई कसर नहीं छोड़ते ! लेकिन अब ऐसे पत्रकारों को चिन्हित कर पुलिस विभाग के साथ साथ सम्मानित पत्रकार संघ अपमानित करेगा जो पत्रकारिता के चौथे स्तम्भ को बदनाम करेगा !और ये कार्यवाही कई जिलों में शुरू हो गयी है |

पत्रकारिता के नाम पर अपराधी किस्म के लोग पुलिस से बचने के बजाय अब जाएंगे जेल ! इस कार्यवाही से फर्जी पत्रकार होंगे बेनकाब और अपराध मे भी आयेगी कमी ।

पत्रकार नंदलाल गुप्ता नंदी हँड़िया

24Aug
मीडिया

दरकता चौथा स्तंभ – वीरेन नंदा

  वीरेन नंदा   वर्तमान समय में लोकतंत्र का प्रहरी पूरी तरह दरक कर जमींदोज़ हो...

03Aug
मीडिया

रवीश कुमार को मिले मैग्सेसे पुरस्कार से खुश नहीं है कुनबा – राघवेन्द्र कुमार त्रिपाठी

  राघवेन्द्र कुमार त्रिपाठी ‘राघव’   यह याद रखना चाहिए कि जहाँ ज्यादा...

10May
मीडिया

आज के दौर में पत्रकारिता का बदलता स्वरुप – कर्ण सिंह

  कर्ण सिंह    देश में पत्रकार को समाज का आईना समझा जाता है वहीं मीडिया को...

26Apr
उत्तरप्रदेशमीडिया

देवरिया में पत्रकार सम्मेलनः मीडिया में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा

शिवाशंकर पाण्डेय  मीडिया में बदलाव जरूरी है। ये होना भी चाहिए, पर इसकी आड़ में...