देश

लापता AN-32 विमान की जानकारी देने पर मिलेगा 5 लाख रुपए इनाम

 

  • सबलोग डेस्क

 

बीते सोमवार को भारतीय वायुसेना का एएन-32 परिवहन विमान असम के जोरहाट एयरबेस से उड़ान भरने के बाद अरुणाचल प्रदेश के मेनचुका वायुक्षेत्र में लापता हो गया| विमान में चालक दल के आठ सदस्य और पांच यात्री सवार थे| शुक्रवार की सुबह भारतीय नेवी के पी.आई विमान ने तमिलनाडु के अरक्कोणम से सर्च ऑपरेशन शुरू किया| लेकिन उसे अब तक सफलता हाथ नहीं लगी है|

भारतीय वायु सेना ने शनिवार को ऐलान किया कि जो कोई भी विमान एएन-32 के लोकेशन की सूचना देगा, उसे पाँच लाख रुपये का इनाम दिया जाएगा| एयर ईस्टर्न एयर कमांड के मार्शल राजीव दयाल माथुर ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि जो भी इसकी सही सूचना देगा, उसे इनाम दिया जाएगा|

मार्शल राजीव दयाल माथुर

इस बीच भारतीय वायु सेना के प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने शनिवार को असम के जोरहाट में वायु सेना स्टेशन का दौरा किया और चल रहे तलाशी अभियान की जानकारी ली| उन्हें सर्च ऑपरेशन के बारे में विस्तृत जानकारी दी गयी और अब तक प्राप्त इनपुट से अवगत कराया गया| वहीं भारतीय वायुसेना प्रमुख ने विमान में सवार अधिकारियों के परिवारों के साथ बातचीत भी की|

वायुसेना के प्रवक्ता ने कहा कि हालाँकि लापता विमान की तलाश जारी है और एयर मार्शल राजीव दयाल माथुर, पूर्वी वायुसेना कमान के एयर ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ ने विमान के बारे में विश्वसनीय जानकारी प्रदान करने वाले व्यक्ति या समूह को 5 लाख रुपये का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है|  विमान से संबंधित जानकारी साझा करने के लिए फोन नंबर – 9436499477 / 9402077267 / 9402132477 हैं|

वायु सेना ने जारी बयान में बताया कि सर्च ऑपरेशन में कई एजेंसियों जुटी हुई हैं| इसमें ISRO से भी मदद ली जा रही है| जंगल पहाड़ होने की वजह से कई तरह की चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है| बता दें कि मंगलवार को नौसेना के लम्बी दूरी के समुद्री टोही विमान पी-8आई ने तमिलनाडु के आईएनएस राजली से खोज और बचाव अभियान में शामिल होने के लिए उड़ान भरा| नौसेना के अधिकारियों ने बताया कि पी-8आई समुद्री टोही, पनडुब्बी रोधी अभियानों और इलेक्ट्रॉनिक खुफिया अभियानों के लिए सेंसर से लैस है|

भारतीय नौसेना का पी 8 आई एयरक्राफ्ट

नौसेना के एक प्रवक्ता ने ट्वीट किया, ‘पी-8आई विमान में बहुत शक्तिशाली सिंथेटिक एपर्चर रडार है, जिसका इस्तेमाल लापता विमान का पता लगाने के लिए एसएआर स्वीप के दौरान किया जाएगा|’

लापता विमान की खोजबीन के लिए सोमवार को भारतीय वायुसेना के C-130, AN-32 विमान, भारतीय वायुसेना के दो MI-17 और भारतीय सेना के ALH हेलीकॉप्टरों को लगाया गया है| भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) भी उपग्रहों की मदद से बचावकर्ताओं को सहयोग कर रहा है|

विमान से संबंधित जानकारी साझा करने के लिए फोन नंबर – 9436499477 / 9402077267 / 9402132477  है|

.

.

. . .
सबलोग को फेसबुक पर पढ़ने के लिए पेज लाइक करें| 

लोक चेतना का राष्ट्रीय मासिक सम्पादक- किशन कालजयी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *